UNCATEGORIZED

रिक्शेवाले का बेटा निकला खालिस्तानी आतंकी, पिता ने कही ये बात

मेरठ. पुलिस की गिरफ्त में आ चुके खालिस्तानी आतंकी तीरथ सिंह के पिता अजीत सिंह का कहना है कि उनका बेटा बेगुनाह है. अजीत सिंह का कहना है कि वे मवाना तहसील के किशनपुर के रहने वाले हैं और रिक्शा चलाकर अपना गुज़ारा करते हैं. एक इंटर कॉलेज में वे चौकीदारी का भी काम करते हैं. तीरथ के बारे में वे बताते हैं कि वे एक ऑटो पार्ट्स की दुकान में काम करता था.

शनिवार को ली गई थी घर के कोने-कोने की तलाशी
खालिस्तानी समर्थक आतंकी तीरथ के पिता का कहना है कि उसका बेटा पंजाब जरूर जाता था, लेकिन उनकी जानकारी में यही रहता था कि वह गुरुसाहब के दरबार में मत्था टेकने गया है. तीरथ के पिता का कहना है कि रविवार को उनके घर के कोने-कोने की तलाशी ली गई. वे लगातार अपने बेटे को बेगुनाह बता रहे हैं.

इससे पहले रविवार को खालिस्तान का समर्थन करने और रेफरेंडम दो हज़ार बीस का प्रचार प्रसार करने वाले तीरथ सिंह को पंजाब पुलिस और यूपी एटीएस ने संयुक्त अभियान के बाद गिरफ्तार कर लिया था. इस शातिर को टीम ने मेरठ के थापरनगर इलाके से गिरफ्तार किया था.

मोहाली में स्पेशल सेल ने दर्ज किया है मुकदमा

बताया जाता है कि पिछले चार वर्षों से वह एक ऑटो पार्ट्स की दुकान में काम करता था. तीरथ यह स्वीकार कर चुका है कि फेसबुक मैसेंजर के जरिए उसका संपर्क ब्रिटेन में रहने वाले एक शख्स से हुआ था, उसने उसे खालिस्तान का समर्थन और रेफरेंडम का प्रचार प्रसार करने के लिए कहा था. गौरतलब है कि तीरथ के खिलाफ पंजाब के मोहाली में स्पेशल सेल ने मुकदमा दर्ज किया है.

यूपी एटीएस और पंजाब पुलिस ने किया था गिरफ्तार
यूपी एंटी टेररिस्ट स्क्वाड और पंजाब पुलिस ने ज्‍वाइंट ऑपरेशन में शनिवार को खालिस्तान मूवमेंट के आतंकी तीरथ सिंह को पकड़ा था. उसके पास से भिंडरावाला के पोस्टर मिले हैं. यूपी एटीएस ने खालिस्तान समर्थक तीरथ सिंह से पूछताछ के बाद उसे पंजाब पुलिस को सौंप दिया. पंजाब पुलिस उसे साथ ले गई. मेरठ के सदर बाजार थाना क्षेत्र के थापरनगर निवासी तीरथ सिंह को शनिवार रात करीब 8 बजे पंजाब पुलिस ने यूपी एटीएस की मदद से उसके घर से गिरफ्तार किया.

Related Articles

Leave a Reply

Close