राष्ट्रीय

Covid-19 Medicine: सवालों के घेरे में कोरोनिल, आयुष मंत्रालय-पतंजलि में सवाल-जवाब जारी

नई दिल्ली I देश में जिस वक्त कोरोना वायरस की महामारी अपने पैर पसार रही है और हर रोज़ पंद्रह हज़ार केस सामने आ रहे हैं, ऐसे वक्त में एक और बहस छिड़ गई है. मंगलवार को योगगुरु रामदेव ने कोरोना को मात देने वाली दवाई ‘कोरोनिल’ को लॉन्च किया, रामदेव ने दावा किया कि ये दवाई कोरोना को मात देती है और इसका रिजल्ट सौ फीसदी है. लेकिन शाम होते-होते आयुष मंत्रालय ने एक बयान जारी करते हुए इस दवाई के प्रचार पर रोक लगा दी और पतंजलि से पूरी जानकारी मांगी. यानी मंत्रालय ने अभी दवाई को मंजूरी नहीं दी है.

बाबा का रामबाण इलाज और मंत्रालय की रोक!

जब पूरी दुनिया कोरोना से हलकान है, तब बाबा रामदेव ने कोरोना की रामबाण दवा का एलान कर सबको चौंका दिया. लेकिन बाबा रामदेव के इस एलान के चंद घंटों के बाद ही आयुष मंत्रालय के एक बयान से तमाम सवाल खड़े हो गए. सिर्फ 7 दिनों में कोरोना के इलाज के दावे पर आयुष मंत्रालय हरकत में आ गया और स्वत: संज्ञान लेते हुए साफ किया कि उन्हें इस तरह की दवा की कोई जानकारी नहीं हैं.

आयुष मंत्रालय ने पतंजलि से दावों पर जानकारी मांगी और पूछा:

• कोरोनिल दवा में इस्तेमाल किए गए तत्वों का विवरण दें.

• जहां दवा पर अध्ययन किया गया है उस जगह का नाम, हॉस्पिटल का नाम, प्रोटोकॉल, सैंपल साइज की भी डिटेल मांगी है.

• संस्थागत आचार समिति की मंजूरी, सीटीआरआई रजिस्ट्रेशन और अध्ययन के नतीजों का डेटा भी मांगा गया है.

आयुष मंत्रालय ने साफ किया कि जब तक मामले कि जांच नहीं हो जाती तब तक इस तरह के दावों के विज्ञापन पर रोक लगे. आयुष मंत्रालय की इस आपत्ति के बाद पतंजलि ने लंबी चौड़ी सफाई पेश करते हुए अपने दावे को साबित करने के लिए आयुष मंत्रालय को सबूत पेश किए, साथ ही कहा कि ये सिर्फ एक कम्युनिकेशन गैप था.

आयुष मंत्रालय के इस बयान के बाद पतंजलि के बालकृष्ण ने ट्वीट करके जानकारी साझा की है. जिसमें विवरण दिया गया है और जानकारी आयुष मंत्रालय के साथ साझा करने की बात कही है.

पतंजलि की ओर से जवाब में कहा गया कि यह सरकार आयुर्वेद को प्रोत्साहन और गौरव देने वाली है जो कम्युनिकेशन गैप था वह दूर हो गया है और Randomised Placebo Controlled Clinical Trials के जितने भी Standard Parameters हैं उन सबको 100% पूरा किया है. इसकी सारी जानकारी हमने आयुष मंत्रालय को दे दी है.

दूसरी ओर योग गुरु बाबा रामदेव का कहना है कि दवा के रिसर्च में सारी गाइडलाइन का पालन किया गया है. जिसके बाद दवा को बाजार में लाया जा रहा है. बाबा रामदेव का दावा है कि दवा का ट्रायल एमआईएमएस में किया गया, जहां के डायरेक्टर ने दवा की टेस्टिंग प्रभावी होने की बात मानी है.

Related Articles

24 Comments

  1. hi!,I like your writing very a lot! percentage we communicate extra approximately your article on AOL?
    I need an expert in this house to resolve my problem.
    Maybe that is you! Looking forward to peer you.

    0mniartist asmr

  2. I was curious if you ever thought of changing the layout of
    your website? Its very well written; I love what youve got to say.

    But maybe you could a little more in the way of content so people could connect with
    it better. Youve got an awful lot of text
    for only having one or two images. Maybe you could space it out better?
    0mniartist asmr

  3. Can I just say what a relief to uncover someone who genuinely understands what they are talking about
    on the net. You definitely realize how to bring a problem to light and make
    it important. A lot more people ought to read this and understand this side of your story.

    I was surprised you’re not more popular given that you certainly possess the gift.

  4. After exploring a handful of the blog posts on your blog,
    I truly like your way of blogging. I bookmarked it
    to my bookmark webpage list and will be checking back in the near future.
    Take a look at my web site as well and let me know what you think.

  5. Hi there! I could have sworn I’ve been to this website before but after browsing
    through some of the post I realized it’s new to me. Anyhow,
    I’m definitely happy I found it and I’ll be bookmarking and checking
    back frequently!

  6. Hi! I know this is somewhat off topic but I was wondering which blog platform are you
    using for this website? I’m getting sick and tired of WordPress because I’ve had
    issues with hackers and I’m looking at alternatives for another platform.
    I would be awesome if you could point me in the direction of a good
    platform.

  7. My brother recommended I might like this blog. He used to be totally right.
    This publish truly made my day. You can not believe just how
    much time I had spent for this information! Thanks!

  8. Its like you read my mind! You seem to know a lot about this, like
    you wrote the book in it or something. I think that you can do with a few pics to drive the message home a bit,
    but instead of that, this is wonderful blog. A fantastic
    read. I’ll definitely be back.

Leave a Reply

Close